राज्य

प्रतापी राजा गुरु बालकदास शौर्य के प्रतीक: मंत्री गुरु रुद्रकुमार
  • October 17, 2021
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सतनामी समाज द्वारा आयोजित बलिदानी राजा गुरु बालकदास के राज्याभिषेक दिवस कार्यक्रम में हुए शामिल
 मंत्री गुरु रूद्रकुमार आज दुर्ग जिले के अहिवारा विधानसभा में गुरु घासीदास सेवा एवं संस्कार परिषद द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। इस कार्यक्रम का आयोजन अहिवारा बानबरद के वार्ड क्रमांक 13 स्थित सतनाम धाम में किया गया। मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने अपने उद्बोधन में कहा कि शौर्य के प्रतीक बलिदानी राजा गुरु बालकदास जी का जीवन बहुत ही संघर्ष पूर्ण रहा है। उन्होंने समाज को न केवल संगठित किया, बल्कि समाज में फैली हुई विभिन्न कुरीतियों के विरूद्ध शंखनाद किया। उनके इन्ही शौर्य के कारण तत्कालीन अंग्रेज शासन के अधिकारियों ने गुरु बालकदास जी को राजा की पदवी से नवाजा था। उन्होंने कहा कि हम सभी को परम पूज्य संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास जी के बताए मार्ग में चलना चाहिए। सभी समाज के लोगों को उनके बताए मार्ग पर चलने से समाज और लोगों का उत्थान होगा। उन्होंने समस्त सतजनों को समाज को संगठित और मजबूत करने की बात कही। 

इस अवसर पर सर्वप्रथम मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने परमपूज्य संत शिरोमणि बाबागुरु घासीदास जी के चित्र पर माल्यार्पण कर विधिवत पूजा-अर्चना की और समस्त मानव समाज के कल्याण के लिए कामना की। कार्यक्रम के दौरान मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने समिति के पदाधिकारियों द्वारा सतनाम धाम प्रांगण में बाउंड्रीवॉल एवं पानी टंकी निर्माण संबंधी मांगों को सहर्ष स्वीकार कर उन्हें पूर्ण करने हेतु घोषणा की। इस अवसर पर गुरु प्रवक्ता डॉ. एम.के. कौशल, नगरपालिका अध्यक्ष श्री नटवर लाल ताम्रकार, समिति के अध्यक्ष श्री आर.एल.कोसरे, पार्षद श्रीमती डेजी टंडन, महंत श्री मनीष बंजारे, श्री हीरा वर्मा, एवं समस्त सामाजिक पदाधिकारी, राजमहन्त, साटीदार, भंडारी एवं बड़ी संख्या में सत समाज के लोग उपस्थित थे।

Subscribe

Contact No.

+91-9770185214

Email

cleanarticle@gmail.com

Location

Prem Nagar Indra Bhata, H.no-509, Vidhan Sabha Road, Near Mowa Over Bridge, Raipur, Chattisgarh - 492007

Visitors

8921