खेल

खराब दौर से जूझ रही चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) गुरुवार को जब यहां आइपीएल मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरेगी तो उसका लक्ष्य टूर्नामेंट में अस्तित्व बचाए रखने का होगा,
  • May 11, 2022
 प्लेआफ की दौड़ से बाहर हो चुकी मुंबई के पास खोने के लिए कुछ नहीं है। यह सत्र चेन्नई और मुंबई जैसी आइपीएल की दो सबसे कामयाब टीमों के लिए निराशाजनक रहा है। मुंबई अब प्रतिष्ठा के लिए खेलेगी, जबकि चेन्नई तकनीकी रूप से अभी भी दौड़ में है, बशर्ते बाकी मैचों के नतीजे उसके अनुकूल रहें।

चेन्नई अगर मुंबई से हार जाती है तो टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी। चेन्नई ने पिछले मैच में दिल्ली कैपिटल्स को 91 रन से हराया था और उसे इस लय को कायम रखने की उम्मीद है। सलामी बल्लेबाज डेवोन कोन्वे शानदार फार्म में हैं और लगातार तीन अर्धशतक जमा चुके हैं। उन्होंने दिल्ली के खिलाफ 87 रन बनाए, हालांकि सलामी जोड़ीदार रुतुराज गायकवाड़ से उन्हें सहयोग की उम्मीद होगी। रवींद्र जडेजा के लिए भी यह सत्र बुरे सपने जैसा रहा और उन्होंने कप्तानी भी बीच में छोड़ दी। दिल्ली के खिलाफ पिछले मैच में वह चोट के कारण बाहर थे। अब देखना यह है कि क्या वह मुंबई के खिलाफ खेल सकते हैं।


यह सत्र चेन्नई और मुंबई जैसी आइपीएल की दो सबसे कामयाब टीमों के लिए निराशाजनक रहा है। मुंबई अब प्रतिष्ठा के लिए खेलेगी जबकि चेन्नई तकनीकी रूप से अभी भी दौड़ में है बशर्ते बाकी मैचों के नतीजे उसके अनुकूल रहें।

 प्लेआफ की उम्मीदों को जिंदा रखने मुंबई के खिलाफ उतरेगी चेन्नई की टीमचेन्नई सुपर किंग्स की टीम के खिलाड़ी 

मुंबई, पीटीआइ। खराब दौर से जूझ रही चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) गुरुवार को जब यहां आइपीएल मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरेगी तो उसका लक्ष्य टूर्नामेंट में अस्तित्व बचाए रखने का होगा, जबकि प्लेआफ की दौड़ से बाहर हो चुकी मुंबई के पास खोने के लिए कुछ नहीं है। यह सत्र चेन्नई और मुंबई जैसी आइपीएल की दो सबसे कामयाब टीमों के लिए निराशाजनक रहा है। मुंबई अब प्रतिष्ठा के लिए खेलेगी, जबकि चेन्नई तकनीकी रूप से अभी भी दौड़ में है, बशर्ते बाकी मैचों के नतीजे उसके अनुकूल रहें।

चेन्नई अगर मुंबई से हार जाती है तो टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी। चेन्नई ने पिछले मैच में दिल्ली कैपिटल्स को 91 रन से हराया था और उसे इस लय को कायम रखने की उम्मीद है। सलामी बल्लेबाज डेवोन कोन्वे शानदार फार्म में हैं और लगातार तीन अर्धशतक जमा चुके हैं। उन्होंने दिल्ली के खिलाफ 87 रन बनाए, हालांकि सलामी जोड़ीदार रुतुराज गायकवाड़ से उन्हें सहयोग की उम्मीद होगी। रवींद्र जडेजा के लिए भी यह सत्र बुरे सपने जैसा रहा और उन्होंने कप्तानी भी बीच में छोड़ दी। दिल्ली के खिलाफ पिछले मैच में वह चोट के कारण बाहर थे। अब देखना यह है कि क्या वह मुंबई के खिलाफ खेल सकते हैं।


चेन्नई को बड़ा स्कोर बनाना होगा, जिसके लिए सभी बल्लेबाजों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा। पिछली बार दोनों टीमों के मुकाबले में महेंद्र सिंह धौनी ने अपना फिनिशिंग अंदाज दिखाकर जीत दिलाई थी। सीएसके ने दिल्ली को 117 रन पर समेट दिया था। मोइन अली ने तीन विकेट लिए, जबकि युवा तेज गेंदबाज मुकेश चौधरी और सिमरजीत सिंह ने भी अच्छा प्रदर्शन किया। तीनों को एक साथ अच्छा प्रदर्शन करना होगा, जबकि स्पिनर महेश तीक्ष्णा के चार ओवर भी मैच का नक्शा बदल सकते हैं। ड्वेन ब्रावो के प्रदर्शन पर भी बहुत कुछ निर्भर करेगा।

मुंबई के लिए बाकी सारे मैच औपचारिकता के हैं और उन्हें मुकम्मिल प्रदर्शन करना होगा। कप्तान रोहित शर्मा (200 रन) और इशान किशन (321 रन) पर बल्लेबाजी का दारोमदार होगा। केकेआर के खिलाफ लड़खड़ा गए मुंबई के मध्यक्रम को भी अपने प्रदर्शन में सुधार करना होगा। सूर्यकुमार यादव चोट के कारण बाहर हैं। ऐसे में तिलक वर्मा, टिम डेविड, रमनदीप सिंह और कीरोन पोलार्ड पर जिम्मेदारी अधिक होगी। गेंदबाजी में बुमराह ने अपनी लय हासिल कर ली है और उन्हें दूसरे गेंदबाजों से सहयोग की उम्मीद होगी। डेनियल सैम्स, रिले मेरेडिथ और कुमार कार्तिकेय सिंह को चेन्नई के बल्लेबाजों पर अंकुश लगाना होगा।

Subscribe

Contact No.

+91-9770185214

Email

cleanarticle@gmail.com

Location

Prem Nagar Indra Bhata, H.no-509, Vidhan Sabha Road, Near Mowa Over Bridge, Raipur, Chattisgarh - 492007

Visitors

11809