राज्य

खेल अकादमियों के संचालन के लिये आगे आए उद्योग समूह
  • June 15, 2022
  • खेल एवं युवा कल्याण विभाग तथा उद्योग विभाग की संयुक्त बैठक
  • छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण के अंतर्गत उद्योगों के माध्यम से खेल अकादमियों का संचालन किया जाएगा

खेल एवं युवा कल्याण विभाग तथा वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के संयुक्त तत्वावधान में उद्योग समूहों की बैठक आज राजधानी के पं. दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम में आयोजित की गई। इस दौरान राज्य में आवासीय एवं गैर आवासीय खेल अकादमियों को संचालित करने के लिये उद्योगों के प्रतिनिधियों के साथ चर्चा एवं विचार विमर्श कर उद्योगों को अहम जिम्मेदारी सौंपी गई। बैठक में वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव श्री मनोज पिंगुवा, खेल एवं युवा कल्याण विभाग सचिव श्री नीलम नामदेव एक्का, खेल संचालक श्रीमती श्वेता श्रीवास्तव सिन्हा, अपर संचालक उद्योग श्री प्रवीण शुक्ला सहित विभिन्न उद्योग समूहों के प्रतिनिधि उपस्थित हुये। 

बैठक में प्रमुख सचिव श्री मनोज पिंगुवा ने उद्योगों के प्रतिनिधियों को बताया कि राज्य सरकार की अपेक्षा के अनुरूप उद्योगों द्वारा सी.एस.आर. कम्पनी एक्ट के अंतर्गत सी.एस.आर. मद से राज्य में खेलों को बढ़ावा देने के लिये भरपूर सहयोग करते हुये सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित किया जाना है। राज्य शासन के इस पहल का सभी उद्योग प्रतिनिधियों के द्वारा सराहना की गई और एकमत होकर खेलों को आगे बढ़ाने के लिये आर्थिक सहयोग देने की सहमति दी गई।

खेल संचालक द्वारा प्रेजेंटेशन के माध्यम से राज्य में संचालित होने वाली खेल अकादमियों तथा मुख्यमंत्री द्वारा खेल अकादमियों की स्थापना हेतु की गई घोषणा के बारे में विस्तार से बताया गया और विभिन्न आवासीय एवं गैर आवासीय खेल अकादमियों के संचालन के लिये उद्योगों से सहयोग के संबंध में अवगत कराया गया। 

बैठक में चर्चा करते हुए हॉकी, तीरंदाजी एवं एथलेटिक की आवासीय अकादमी बिलासपुर, आवासीय एवं गैर आवासीय तीरंदाजी अकादमी रायपुर, आवासीय एवं गैर आवासीय हॉकी अकादमी रायपुर, बालिका आवासीय कबड्डी अकादमी बिलासपुर, लॉन टेनिस अकादमी रायपुर, तीरंदाजी अकादमी जशपुर, जूडो अकादमी दुर्ग के संचालन के संबंध में प्रस्ताव रखा गया। इसके अलावा बेडमिंटन अकादमी रायपुर, बास्केटबॉल वालीबॉल एवं स्वीमिंग अकादमी कोरबा, कयाकिंग एण्ड कैनोइंग अकादमी जगदलपुर, शहीद गुण्डाधुर तीरंदाजी अकादमी जगदलपुर, आवासीय हॉकी अकादमी राजनांदगांव, तीरंदाजी प्रशिक्षण उपकेन्द्र शिवतराई बिलासपुर, बालिका फुटबॉल अकादमी रायपुर एवं एथलेटिक अकादमी रायपुर के संचालन हेतु उद्योगों के समक्ष प्रस्ताव रखा गया।

मुख्यमंत्री की घोषणा के परिपालन में नारायणपुर में मलखम्भ खेल के लिये राज्य शासन द्वारा आवासीय खेल अकादमी प्रारंभ करने के प्रस्ताव पर, भिलाई स्टील प्लांट को अगले पांच वर्षों के लिये मलखम्भ आवासीय अकादमी को गोद लेकर सक्रिय रूप से संचालित करने का आग्रह किया गया। भिलाई स्टील प्लांट के एम.डी. ने मलखम्भ अकादमी के सक्रिय संचालन करने पर सहमति व्यक्त की। इसी तरह रायपुर में आवासीय तीरंदाजी अकादमी के संचालन के लिये एन.एम.डी.सी. के द्वारा एक करोड़ रूपए की राशि का सहयोग उपलब्ध कराया गया है। बैठक में आवासीय तीरदांजी अकादमी को पूरी तरह से गोद लेकर सक्रिय संचालन हेतु एन.एम.डी.सी. लिमिटेड से आग्रह किया गया।

उद्योगों के प्रतिनिधियों ने सी.एस.आर. मद के अंतर्गत खेलों के लिये निश्चित सीमा तय करने का सुझाव दिया, उद्योग विभाग के द्वारा इस संबंध में गाईडलाइन जारी की जायेगी। जिन जिलों में डी.एम.एफ. के अंतर्गत पर्याप्त राशि उपलब्धता है, उन जिलों में डी.एम.एफ. के अंतर्गत ही अकादमियों के संचालन करने एवं अन्य सभी खेल अकादमियों को उद्योगों के सी.एस.आर. मद से संचालित करने के संबंध निर्णय लिया गया।

जिंदल ग्रुप के द्वारा वर्तमान में राज्य में केवल शूटिंग खेल को स्पॉन्सर किया जा रहा है। शूटिंग के साथ साथ राज्य शासन द्वारा प्रस्तावित एक अन्य खेल को भी पूरी तरह गोद लेकर खेल अकादमी के सक्रिय संचालन हेतु आग्रह किया गया, जिस पर जिंदल ग्रुप के द्वारा सहमति दी गई। गोपाल स्पंज एण्ड पॉवर लिमिटेड तथा फिल इस्पात के द्वारा राज्य शासन के इस पहल को उत्कृष्ट पहल बताते हुये, आवासीय कबड्डी अकादमी बिलासपुर एवं जगदलपुर के किसी एक अकादमी के लिये शीघ्र 15-15 लाख रूपये के आर्थिक सहयोग उपलब्ध कराने के लिये सहमति दी गई। बजरंग पॉवर ने राज्य शासन के प्रस्ताव के अनुसार किसी भी एक खेल अकादमी को पूरी तरह से गोद लेकर सक्रिय संचालन का भरोसा दिलाया। 

खेल सचिव श्री नीलम नामदेव एक्का ने उद्योग प्रतिनिधियों के द्वारा सीएसआर मद से खेल अकादमियों से संचालन के लिए सकारात्मक प्रतिक्रिया के लिये धन्यवाद ज्ञापित किया। खेल सचिव ने बताया कि छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण के अंतर्गत एक छत के नीचे सभी खेलों के लिये युक्तियुक्त व्यय करते हुये, राज्य में खेल अकादमियों का सक्रिय संचालन सुनिश्चित किया जाएगा। खेल सचिव ने उद्योग प्रतिनिधियों से यह आग्रह भी किया कि विभाग के प्रस्ताव के अतिरिक्त भी यदि कोई उद्योग किसी खेल अकादमी को गोद लेना चाहते हैं, तो उनका संचालन कर सकते हैं।

बैठक में एन.एम.डी.सी. लिमिटेड, भिलाई स्टील प्लांट, एन.टी.पी.सी., जे.के. लक्ष्मी सिमेंट्स, एसीसी सीमेंट्स, अल्ट्राटेक सिमेंट्स, श्री सिमेंट्स, अदानी पॉवर, जिंदल ग्रुप, बजरंग पॉवर, जैसवाल निको इण्डस्ट्रीज, नाकोडा स्टील, सारडा सिनर्जी लिमिटेड, गोपाल स्पंज एण्ड पॉवर लिमिटेड तथा फिल इस्पात, बालको कोरबा, हीरा ग्रुप गोदावरी इस्पात, एस.के.एस. इस्पात, डी.बी. पॉवर, लेनको अमरकंटक एवं एमएसपी स्टील एण्ड पॉवर के प्रतिनिधि उपस्थित हुये। सभी उद्योगपतियों ने राज्य में खेल अकादमियों के माध्यम से खेलों को बढ़ावा देने के लिये राज्य शासन द्वारा को गई पहल की सराहना की और प्रस्तावानुसार सी.एस.आर. मद से आर्थिक सहयोग उपलब्ध कराने तथा खेल अकादमियों को गोद लेकर सक्रिय संचालन के लिये सहमति व्यक्त करते हुये शीघ्र सकारात्मक क्रियान्वयन करने और आर्थिक सहयोग उपलब्ध कराने का विश्वास दिलाया।

Contact No.

+91-9770185214

Email

cleanarticle@gmail.com

Location

Prem Nagar Indra Bhata, H.no-509, Vidhan Sabha Road, Near Mowa Over Bridge, Raipur, Chattisgarh - 492007